Nobel Peace Prize Nominated Ilwad Elman and Hajer Sharief

नोबेल पुरस्कार के लिए नोमिनेट की गईं यह दो मुस्लिम बहादुर लड़कियाँ

ओस्लो। नोबेल शांति पुरस्कार के लिए इस साल दो मुस्लिम नौजवान लड़कियों को नोमिनेट किया गया है। इक महिला सोमालिया में सामाजिक कार्यकर्ता इलमाद इलमान और दूसरी महिला लीबिया में लॉ की छात्रा हाजरा शरीफ हैं। दोनों संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान के एक एनजीओ की पहल का हिस्सा हैं, जो दुनिया के 10 युवा कार्यकर्ताओं को चुनकर उन्हें सामाजिक कार्यों के लिए प्रेरित करता है।

पिछले साल यानी 2018 तक अब तक सिर्फ 12 मुसलमानों को नोबेल पुरस्कार मिला है। इसमें भी 7 पुरस्कार शांति स्थापना की कोशिशों के लिए दिया गया है। इसके अलावा 1979 में पाकिस्तान के अहमदिया समुदाय के अब्दुस सलाम को भौतिकी और 2015 में तुर्की के अज़ीज़ संसार थे जिन्हें आणविक जीव विज्ञान के क्षेत्र में रसायन विज्ञान में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

हाजरा शरीफ 2011 से लीबिया में शांति की लड़ाई में सक्रिय हैं जब उन्होंने गृहयुद्ध की भयावह घटनाओं को देखा। आंतकवाद और अशांति को देखकर हाजरा ने 19 साल की उम्र में शांतिपूर्ण लोकतंत्र की स्थापना के लिए सामाजिक कार्य करना शुरू किया। हाजरा शरीफ ने लीबिया के 30 शहरों में 1325 नेटवर्क परियोजना, संगठनों और कार्यकर्ताओं का एक संग्रह शुरू किया, जो सुरक्षित समाजों के निर्माण में महिलाओं की भूमिका के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मिलकर काम कर सकते हैं। वह वर्तमान में कानून की पढ़ाई कर रही है।

इलमाद इलमान मूल रूप से मोगादिशु, सोमालिया की रहने वाली हैं। उनके माता पिता का नाम फार्तुम अदन और एलमन अली अहमद है। सामाजिक सेवा के दौरान उनके पिता की हत्या कर दी गई जिसके बाद उनकी माँ और बहनों ने कनाडा में शरण ली। मगर इलमाद ने 2010 में 19 साल की उम्र में सोमालिया लौटकर अपने पिता के शांति पहल के काम को जारी रखने का निर्णय लिया। सोमालिया में एल्मन के काम की कई उपलब्धियों में से एक सोमालिया का पहला बलात्कार संकट केंद्र है जो लिंग आधारित हिंसा और शोषण से बचाने में काम करता है।

Minneapolis, Minnesota murder case accused Sick Sherrie Dirk

इस औरत ने बेडशीट में लपेटकर 3 साल की बच्ची को भूख से मार डाला

मिनेपॉलिस। अमेरिकी राज्य मिनसोटा के मिनेपॉलिस शहर ने दिल दहलाने वाली ख़बर आई है। एक आया ने तीन साल की बच्ची को बेडशीट में लपेटकर भूख से मार डाला क्योंकि बच्ची बहुत उछल कूद कर रही थी। आया बच्ची से तंग आ चुकी थी और उसने बच्ची को गुस्से में बेडशीट से लपेट दिया ताकि वह चल फिर ना सके। लगातार कई घंटे तक बेडशीट में एक ही जगह सुबक रही बच्ची आखिरकार भूख से मर गई। घटना की जिम्मेदार आया को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सूत्रों ने बताया कि 34 साल की आया सिक शेरिक डर्क ने तंग आकर तीन साल की बच्ची को तीन बेडशीट से लपेटा और कमरे में बंद कर दिया। कुछ घंटे के बाद भूख और प्यास से बच्ची की मौत हो गई। इस महिला को बच्ची का पिता 5 घंटे के बाद ढूंढ पाया था। जब पिता ने बच्ची को देखा तो वह दो बेडशीट से खुद को आज़ाद कर चुकी थी लेकिन वह एक बेडशीट में लिपटी हुई मरी मिली। महिला को इस अपराध के लिए 25 साल जेल में गुजारने पड़ सकते हैं। अमेरिका में अपराध की डिग्री तय है और यह अपराध सेकंड डिग्री का माना गया है।

Reserve Bank of India

रिज़र्व बैंक की चेतावनी- आ रहा है बुरा वक्त

मुम्बई। रिज़र्व बैंक ने एक तरह से चेतावनी दे दी है कि भारतीय अर्थ व्यवस्था के लिए बुरा वक्त आ रहा है। आरबीआई ने अपनी मौद्रिक नीति रिपोर्ट, अक्टूबर 2019 में यह भी कहा है कि घरेलू और दुनिया में मंदी ने मिलकर देश में आर्थिक गतिविधियों को प्रभावित किया है।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के अनुसार, भारतीय अर्थव्यवस्था जो पिछले कुछ तिमाहियों में काफी हद तक मंदा पड़ी है और मंदी के संकेत दिए गए हैं, निकट अवधि में कई और जोखिमों का सामना करने की संभावना है।

रिपोर्ट में कहा गया है, “घरेलू और दुनिया में आर्थिक मंदी के संयोजन ने आर्थिक गतिविधियों को प्रभावित किया है, विशेष रूप से कुल मांग घट गई है। भारतीय अर्थव्यवस्था का निकट भविष्य का दृष्टिकोण कई जोखिमों से भरा है।”

इसने कहा कि आर्थिक गतिविधियों का प्रमुख सहारा निजी खपत है औऱ वह कई कारणों से कम हो गई है। “इस संदर्भ में, ऑटोमोबाइल और रियल एस्टेट जैसे बड़े रोजगार पैदा करने वाले क्षेत्रों का प्रदर्शन संतोषजनक से कम नहीं है। हाल ही में शुरू किए गए उपायों जैसे कि कॉर्पोरेट टैक्स दरों में तेज कटौती, आवास क्षेत्र के लिए परिसंपत्ति निधि, बुनियादी ढांचा निवेश निधि, कार्यान्वयन पूरी तरह से इलेक्ट्रॉनिक जीएसटी रिफंड प्रणाली और निर्यात गारंटी के लिए धन मददगार होगा। “

यह भी कहा कि बैंक ऋण वृद्धि धीमी हो गई है और जोखिम में गिरावट और मांग में कमी के कारण वाणिज्यिक क्षेत्र के लिए कुल फंड प्रवाह में गिरावट आई है। हालांकि, मौद्रिक नीति रिपोर्ट में कहा गया है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का हालिया पुनर्पूंजीकरण क्रेडिट प्रवाह में सुधार के लिए अच्छी तरह से विकसित होता है, जो निजी निवेश गतिविधि को पुनर्जीवित करने के लिए महत्वपूर्ण हैं।

“इस बीच, वैश्विक अनिश्चितताओं ने घर में निवेश गतिविधि को कमजोर कर दिया है। व्यापार तनाव के आगे बढ़ने से निर्यात की संभावनाओं पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है, इसके अलावा निवेश में देरी होने से भी नुकसान हो सकता है।”

The Asia-Pacific and Non-Proliferation Subcommittee of the House Foreign Affairs Committee has scheduled a hearing on human rights in Kashmir and other parts of South Asia on October 22.

अमेरिकी कांग्रेस ने कहा- कश्मीर में संचार बंद करने के विनाशकारी प्रभाव, 22 को करेगा सुनवाई

वॉशिंगटन। अमेरिकी संसद यानी कांग्रेस की मज़बूत कमेटी ने भारत सरकार से कहा है कि कश्मीर में संचार बंद करने से लोगों की ज़िंदगी पर ‘विनाशकारी प्रभाव’ डाल रहा है। कांग्रेस ने भारत से अपील की है कि वह संचार को पुन सुचारू करे। आपको बता दें कि घाटी में 5 अगस्त के बाद से संचार व्यवस्था ठप पड़ी है। इसी दिन संसद ने कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को समाप्त करने का विधेयक पारित किया था। इसके फौरन बाद घाटी में संचार बंद कर दिया गया और अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगा दिया गया था। इस विधेयक में जम्मू और कश्मीर से लद्दाख को अलग कर दो केन्द्र शासित प्रदेश बना दिए गए थे।

हंदवाड़ा और कुपवाड़ा को छोड़कर पूरे राज्य में मोबाइल फोन और इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई थी। सोमवार को किए गए एक ट्वीट में अमेरिकी कांग्रेस की घरेलु विदेशी मामलात कमेटी ने लिखा कि –“भारत के कश्मीर में संचार ब्लैक आउट से कश्मीरियों के जनजीवन पर विनाशकारी प्रभाव पड़ा है। भारत के लिए यह समय प्रतिबंध हटाने और कश्मीरियों को वही अधिकार और लाभ देने का है जो किसी भी भारतीय नागरिक को मिलते हैं।”

भारतीय अमेरिकी सांसद प्रमीला जयपाल ने 13 कांग्रेस सदस्यों के साथ मिलकर भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से अपील की है कि वह कश्मीर में मानवाधिकार की स्थिति को बेहतर करें और घाटी में संचार ब्लैक आउट समाप्त करें। आपको बता दें कि अमेरिकी कांग्रेस की द हाउस फॉरेन अफेयर्स कमेटी की एशिया-प्रशांत और परमाणु अप्रसार उपसमिति ने 22 अक्टूबर को कश्मीर और दक्षिण एशिया में मानवाधिकार की स्थिति पर सुनवाई तय की है।

Nushrat Bharucha at Thailand Instagram Pics

नुशरत भरूचा ने लगा दी इंटरनेट पर आग

मुम्बई। उभरती हुई नायिका नुशरत भरूचा ने इंस्टाग्राम पर आग लगा दी है। फिल्म ‘ड्रीम गर्ल’ की कामयाबी के बाद नुशरत भरूचा अपनी सहेलियों के साथ पहुंच गई है थाईलैंड। यहाँ उन्होंने जमकर मस्ती की औऱ समन्दर पर ले डालीं ऐसी तस्वीरें कि चाहने वाले देखते  ही आहें भरने लगे। नुशरत ने फिल्म की सफलता को एन्जॉय करने और ब्रेक लेने के लिए थाईलैंड का रुख़ किया है। तो आप भी देखिए नुशरत की यह ताज़ा तस्वीरें और अगर पसंद आए तो फोलो कीजिए नुशरत भरूचा का ऑफिशियल इंस्टा पेज।

Nushrat Bharucha at Thailand Instagram Pics
भूख से बचने के लिए पेट पर गीला कपड़ा बाँधती है ओडीशा की सीमा मुंडा

भूख से बचने के लिए पेट पर गीला कपड़ा बाँधती है अनाथ लड़की

भूख से बचने के लिए पेट पर गीला कपड़ा बाँधती है अनाथ लड़की

कटक। ओडीशा के केंदुझर ज़िले में अनाथ अकेली ज़िन्दगी की लड़ाई लड़ रही 11 साल की बच्ची सीमा मुंडा को जब भूख बहुत सताती है तो वह पेट पर गीला कपड़ा बाँधकर सो जाती है। बच्ची के माता- पिता का देहांत हो चुका है और उसके परिवार में कोई नहीं बचा है। छोटी सी बच्ची जंगल से लकड़ी काटकर ज़िन्दगी बसर करती है लेकिन जब बीमार हो जाए या कोई इसकी लकड़ी नहीं ख़रीदता है तो उसे भूखे ही सो जाना पड़ता है। वह महादेईपड़ा पंचायत में पड़ने वाले सरलापेठ गाँव में रहती है।

सूत्रों ने बताया कि परिवार में एक के बाद एक सभी परिजन मारे गए। पहले उसकी माँ, फिर पिता और आखिर में दादा की मौत हो गई। इन घटनाओं ने सीमा मुंडा को अकेला कर दिया। अब वह अकेले ही ज़िंदगी की गाड़ी घसीट रही है। गांव के सरपंच ने पत्रकारों को बताया कि उसके पास ज़रूरी दस्तावेज़ नहीं है, जिससे उसे राशन का धान देने में दिक्कत आ रही है। हालांकि घटना की तरफ ध्यान दिलाने के बाद उन्होंने बच्ची को दान से चावल मुहैया करवाने का आह्वान किया है।

Bigg Boss Blamed 'Love Jihad' Fake News From a BJP Leader

‘लव जिहाद’ के झूठ में धकेला ‘बिग बॉस’ को, भाजपा नेता ने फैलाई फेक न्यूज़

मुम्बई। सलमान ख़ान के बतौर एंकर एयर होने वाले टेलीविज़न रिएलिटी शो ‘बिग बॉस’ पर लव जिहाद का झूठ मढ़ने वाले एक भाजपा नेता की भारी आलोचना हो रही है। चार अक्टूबर को एक झूठे ट्वीट के ज़रिए इस नेता ने यह कहा था कि बिग बॉस में लव जिहाद किया जा रहा है और एक कश्मीरी लड़के के साथ ब्राह्मण लड़की को सुलाया जा रहा है। जबकि यह तस्वीर बिग बॉस के वर्तमान सीज़न की नहीं है बल्कि 2015 में प्रसारित किए गए सीज़न 9 की तस्वीर है।

फेक न्यूज़ पर कार्य करने वाली एक वेबसाइट ने दावा किया कि भाजपा नेता अतुल कुशवाहा ने जिस तस्वीर को शेयर किया है वह कलर्स टीवी पर साल 2015 में सीज़न 9 के प्रतिभागियों सुयश रॉय और किश्वर मर्चेंट की है। इस बीच झूठा ट्वीट करने वाले अतुल कुशवाहा के इस ट्वीट पर 1500 रिट्वीट हो चुके थे और 2500 लोगों ने इसे लाइक भी कर लिया था। यह वेरीफाइड अकाउंट है।

जिस तस्वीर को नेताजी ने शेयर किया है वह यूट्यूब पर टेलीमसाला चैनल ने Bigg Boss 9: Suyyash & Kishwar Intimate On-Camera के टाइटल के साथ अपलोड किया था। कानपुर के रहने वाले नेताजी अतुल कुशवाहा भारतीय जनता पार्टी के किसान मोर्चा के सदस्य हैं।

हालांकि बाद में नेताजी के इस ट्वीट पर कई लोगों ने क्लास भी लगा दी। लोगों ने उन पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया। यह जवाबी ट्वीट आप यहाँ देख सकते हैं।

Alka Tyagi , IT Officer in Mumbai

अंबानी परिवार को इनकम टैक्स का नोटिस देने वाली ऑफिसर है मुसीबत में, दफ्तर में चोरी

मुम्बई। इस साल मई में मुकेश अम्बानी के परिवार क नोटिस देने वाली महिला अधिकारी बहुत परेशान चल रही है। उन्होंने यह बात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लिखी चिट्ठी में बयान की है। आपको बता दें कि इनकम टैक्स को लेकर मुम्बई की मुख्य आयकर आयुक्त (यूनिट 2) की अधिकारी अलका त्यागी ने यह शिकायत की है कि विभाग के प्रमुख उन पर बहुत दबाव बना रहे हैं और उनके ऑफिस से भी कुछ फाइलें चोरी हो गई हैं।

इस बारे में फेसबुक पर वरिष्ठ पत्रकार गिरीश मालवीय ने पूरे मामले को समझाते हुए फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर मामला का खुलासा किया है। पेश है गिरीश मालवीय की पूरी फेसबुक पोस्ट-

(फेसबुक पोस्ट का लिंक- https://www.facebook.com/girish.malviya.16/posts/2715875205110777)

मुकेश अम्बानी परिवार को मई 2019 में ब्लैक मनी एक्ट में इनकम टैक्स विभाग से नोटिस भेजा गया!…. यह खबर याद होगी आपको ! ……..कुछ दिन पहले यह खबर आयी थी तो सहसा किसी को विश्वास नही हुआ था, मोदीराज में अम्बानी परिवार को नोटिस भेजा गया है यह सुनकर मोदी समर्थक बल्लियों उछल पड़े, इस खबर को हाथों हाथ लिया गया और हम जैसे लोगो को खूब लानत मलामत भेजी गई ……….

कुछ दिन बाद खबर आई कि मुम्बई की मुख्य आयकर आयुक्त (यूनिट 2) पद पर कार्यरत अलका त्यागी जिनके पास यह केस था उनके दफ्तर में चोरी हो गयी है लेकिन इस मामले में कोई एफआईआर दर्ज नही कराई गई है यही अधिकारी चंदा कोचर के पति दीपक कोचर- ICICI केस, ओर अंबानी परिवार से जुड़े ब्लैक मनी एक्ट संबंधी मामले समेत कई महत्वपूर्ण मामलों की जांच कर रही थी ओर इस चोरी के बाद अब यह किस्सा खत्म ही समझ लिया जा रहा था

लेकिन पिक्चर अभी बाकि है मेरे दोस्त……..

दो दिन पहले यह खबर आई है कि जिस अधिकारी अलका त्यागी के पास यह केस था उनके ऊपर बहुत प्रेशर बनाया जा रहा था और इस आशय की चिठ्ठी उन्होंने 21 जून को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को भेजी है उन्होंने इस शिकायत की CC उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय, केंद्रीय सतर्कता आयोग और कैबिनेट सेक्रेटरी को भी भेजी है।

अंग्रेजी अख़बार ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ के मुताबिक़, त्यागी की ओर से वित्त मंत्री को 9 पन्नों की शिकायत भेजी गई है और इसमें आरोप लगाया गया है कि केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के चेयरमैन प्रमोद चंद्र मोदी की ओर से उन पर बहुत ज़्यादा ‘दबाव’ बनाया जा रहा है, सीबीडीटी इनकम टैक्स के मामलों में निर्णय लेने वाली शीर्ष संस्था है।

अपनी चिट्ठी में अलका त्यागी ने केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के चेयरमैन प्रमोद चंद्र मोदी पर बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं।

त्यागी ने आरोप लगाया है कि 2019 के अप्रैल के अंतिम और मई के शुरुआती हफ़्ते में मोदी ने उन्हें बताया कि संवेदनशील आकलन के मामलों में की जा रही कार्रवाई को बंद किया जाना है और यह काम हर हालत में मई 2019 से पहले ही होना है !………..प्रमोद चंद्र मोदी का यह निर्देश बेहद चौंकाने वाला था। मोदी ने निर्देश दिये थे कि जिस मामले को बंद करने को कहा है उसमे क़तई इस बात का ज़िक्र नहीं होना चाहिए कि वह (मोदी) कहीं से भी इसमें शामिल हैं। त्यागी ने कहा है कि सीबीडीटी चेयरमैन ने उन पर इस मामले को बंद करने के लिए बहुत ज़्यादा दबाव बनाया और कहा कि किसी भी क़ीमत पर इस मामले को बंद किया जाए।

इसी अंग्रेजी अखबार ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ ने इस महीने की शुरुआत में ही ख़बर दी थी कि अलका त्यागी ने उनके दफ़्तर में संदिग्ध कार्रवाई के बारे में प्रिंसिपल चीफ़ कमिश्नर एस. के. गुप्ता को लिखित शिकायत भेजी थी। त्यागी ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि एक पुराने मामले को लेकर उन पर दबाव बनाया जा रहा है और इस मामले को ख़ुद सीबीडीटी चेयरमैन प्रमोद मोदी ने ही निरस्त कर दिया था और उन्हें क्लीन चिट दे दी थी।

अलका त्यागी ने आरोप लगाया है कि बाद में मोदी ने इस मामले को फिर से खोल दिया और अब ब्लैकमेलिंग के हथियार के तौर पर उनके ख़िलाफ़ इस्तेमाल किया जा रहा है।

त्यागी ने अपने पत्र में लिखा है कि उन्होंने यह कभी नहीं सोचा था कि उन्हें इन बातों का ख़ुलासा करना पड़ेगा लेकिन उन्हें सीबीडीटी चेयरमैन के जोड़ तोड़ और बेईमानी भरे व्यहार की वजह से ऐसा करना पड़ा। उन्होंने प्रमोद चंद्र मोदी पर यह भी आरोप लगाया है कि जो अफ़सर उनकी बात को नहीं मानते थे वह उनके ख़िलाफ़ झूठी शिकायतें बना देते थे।

त्यागी ने कहा है कि एक बार मोदी ने उन्हें रात को 8.45/9 के बीच नॉर्थ ब्लॉक में अपने दफ़्तर में मीटिंग के लिए बुलाया लेकिन उन्होंने इतनी रात को जाने से मना कर दिया। उन्होंने पत्र में लिखा है कि यह मीटिंग किसी और वक्त भी हो सकती थी।

यह पत्र अलका त्यागी ने 21 जून को भेजा था अब यदि आप सोच रहे है कि इस पत्र को मिलते ही ईमानदारी के अवतार कहे जाने वाले मोदीं जी ने तुरंत जाँच के आदेश दे दिए होंगे तो आपको बता दूं कि ऐसा बिल्कुल भी नही है बल्कि यह शिकायत के मिलने के दो महीने के अंदर ही मोदी सरकार ने प्रमोद चन्द्र मोदी का सीबीडीटी चेयरमैन का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ा दिया है और अलका त्यागी को लूप लाइन में भेज दिया है उन्हें मुंबई से हटाकर नागपुर स्थित राष्ट्रीय प्रत्यक्ष कर अकादमी का प्रिंसिपल डायरेक्टर जनरल (ट्रेनिंग) बना दिया गया।

एक बात और……. अलका त्यागी ने अपने पत्र में यह भी लिखा है कि प्रमोद चन्द्र मोदी ने उनके सामने कबूला है कि विपक्षी पार्टी के एक नेता के खिलाफ उनकी अगुवाई में चलाए गए एक कामयाब छापे की वजह से उनका सीबीडीटी चेयरमैन का उनका पद सुनिश्चित हुआ……..

मोदी का ‘लाइव’ रोका, दूरदर्शन अधिकारी कर दी गई निलम्बित

मोदी का ‘लाइव’ रोका, दूरदर्शन अधिकारी कर दी गई निलम्बित

चैन्नई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चैन्नई में आईआईटी के दौरान चल रहे भाषण के दौरान दूरदर्शन ने उनका लाइव रोक दिया। इसकी क़ीमत दूरदर्शन महिला अधिकारी को निलम्बित होकर चुकानी पड़ी है। आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री के काफिले की जांच करने गए आईएएस ऑफिसर मुहम्मद मोहसिन के बाद यह दूसरा मामला है जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम में कथित ‘विघ्न’ डालने पर किसी अधिकारी पर कोई गाज गिरी है।

आईआईटी मद्रास के छप्पनवें दीक्षांत समारोह में शिरकत करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जब भाषण दे रहे थे, दूरदर्शन चैन्नई की सहायक निदेशक श्रीमती आर वसुमथी ने कथित तौर पर यह लाइव प्रसारण बीच मे रुकवा दिया। इस बात की बहुत संभावना है कि इसी वजब से वसुमथी को नौकरी से निलम्बित कर दिया गया। हालांकि दूरदर्शन की तरफ से ना तो कोई पुष्टि की जा रही है और ना ही वसुमथी ने इस बारे में कोई बयान दिया है। प्रसार भारती के सीईओ ऑफिस से जारी आदेश में वसमुथी को शहर छोड़ने से भी रोका गया है। वसुमथी को थमाए गए पत्र में प्रसार भारती ने साफ किया है कि इसे हिरासत नहीं माना जाए।

वसुमथी के निलम्बन के दौरान वह अगले आदेश तक ऑफिस नहीं जा पाएंगी और ना ही वह किसी भी प्रकार के सरकारी आदेश जारी कर सकती हैं। निलम्बन के दौरान उन्हें घर पर ही रहना होगा और आधा वेतन लेने की हक़दार होगी।

Sony Super Star Singer Winner Priti Bhattacharji

सोनी ‘सुपर स्टार सिंगर’ की विजेता बनी प्रीति भट्टाचार्जी

मुम्बई। सोनी टीवी के सुपर रिएलिटी शो ‘सुपर स्टार सिंगर’ की विजेता बन गई है। सोनी टेलीविज़न पर प्रसारित होने वाले रिएलिटी शो में पश्चिम बंगाल की 9 साल की प्रीति विजेता बन गई।

छह और सात अक्टूबर को दो दिन चले रिएलिटी शो के फाइनल में प्रीति ने सबसे ज्यादा वोट हासिल करके यह खिताब अपने नाम किया। देश भर से छह प्रतियोगियों को फाइनल में जगह मिली थी। इसमें प्रीति के अलावा सुल्तानपुर, उत्तर प्रदेश की 13 साल की निष्ठा शर्मा, पुणे, महाराष्ट्र के 12 साल के मौली चैतानिया, बांकुरा, पश्चिम बंगाल की 13 साल की अंकोना मुखर्जी, मुम्बई की 13 साल की स्नेहा शंकर और शिवसागर, आसाम के 10 साल के हर्षित नाथ ने फाइनल में जगह बनाने में कामयाबी हासिल की थी।

Priti Bhattacharji
Priti Bhattacharji

कई महीनों तक चले वोटिंग के बाद आए निर्णय में सभी प्रतियोगियों में सबसे कम उम्र की प्रीति भट्टाचार्जी ने सबको पछाड़ते हुए विजेता की ट्रॉफी पर क़ब्ज़ा कर लिया। प्रीति भट्टाचार्जी को रिएलिटी शो के लिए नितिन कुमार ने ट्रेनिंग दी थी। शो को अल्का याज्ञनिक, जावेद अली और हिमेश रेशमिया ने जज के रूप में फाइनल तक पहुंचाया था। फाइनल शो में विशेष अतिथि के तौर पर प्यारेलालजी और अनु मलिक एवं सोनी पिक्चर्स के सीईओ एनपी सिंह ने भी उपस्थिति दी थी।

नितिन कुमार को सीज़न का बेहतर कप्तान का पुरस्कार मिला।

बाल गायकों को सलमान अली, नितिन कुमार, ज्योतिका टंगरी औऱ सचिन वाल्मीकि ने प्रशिक्षित किया था। हालांकि एक लीक तस्वीर के माध्यम से दर्शकों को पहले ही पता लग चुका था कि शो की विजेता प्रीति भट्टाचार्जी हैं। उनके विनर के पटके की तस्वीर पहले ही इंटरनेट पर वायरल हो चुकी थी।